1. चंपावत जिला अस्पताल में तैनात सर्जन राहुल चौहान के इस्तीफ़े के बाद चंपावत नगर के लोगों का गुस्सा भड़क गया स्थानीय लोगों द्वारा आज चंपावत जिला मुख्यालय बाजार में स्वास्थ्य निदेशालय और जिला अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ प्रदर्शन किया। बताते चलें कि सर्जन राहुल चौहान ने 2 दिन पूर्व 3 माह का वेतन न मिलने का कारण बताते हुए पीएमएस डॉक्टर आरके जोशी को पत्र भेजा था।  जिसमें उन्होंने बताया था कि जब से उनकी तैनाती हुई है तब से उन्हें और उनकी पत्नी मोनिका को जो कि जिला अस्पताल में गाइनेकोलॉजिस्ट हैं वेतन नहीं मिला है।
    सर्जन राहुल और उनकी पत्नी मोनिका के जिला अस्पताल में तैनाती के बाद अस्पताल की स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर होने लगी थी । सर्जन राहुल ने दो माह में ही 55 से अधिक बड़े ऑपरेशन कर दिए थे । उनकी सेवाओं को देखकर स्थानीय लोगों द्वारा उनकी  काफी  प्रशंसा की गई विधायक कैलाश गहतोड़ी ने भी दंपत्ति को जिला अस्पताल में जाकर सम्मानित किया था।
    सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सर्जन राहुल अस्पताल प्रबंधन की राजनीति तथा स्वास्थ्य निदेशालय से समय पर वेतन न मिलने के कारण नाराज चल रहे थे।
    लोगों ने सर्जन की इस्तीफे को नामंजूर करते हुए उन्हें शीघ्र जिला अस्पताल में वापस बुलाने की मांग की है।
    मोटर स्टेशन में प्रदर्शन करने वालों में सपा जिला अध्यक्ष एलएम भट कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह टैक्सी यूनियन के अमरनाथ,
    देवेश पंत, सुनील कुमार, अनिल कुमार,वीरेंद्र सिंह, राजू आदि लोग शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here