टनकपुर में तहसीलदार को ज्ञापन सौपते पीडित केदार सिंह।

टनकपुर : ग्राम पंचायत ककनई के की महिला ग्राम प्रधान के जेठ के ऊपर गांव के ही सस्ता गल्ला विक्रेता केदार सिंह ने आरोप लगाया है कि वह उसे सस्ता गल्ला दुकान छीनने की धमकी देता है। साथ ही ग्रामीण ने फर्जी हस्ताक्षर से गांव में काम करने का आरोप भी लगाया है। पीडि़त ने टनकपुर में तहसीलदार को ज्ञापन सौंप कार्रवाई करने की मांग की है।

अपने जिले की हर खबर से रहेंं अपडेट                                         यहांं क्लिक कर कुमाऊं पोस्‍ट के Whatsapp Group से सीधे जुड़ें

तहसीलदार को सौंपे ज्ञापन में सस्ता गल्ला विक्रेता केदार सिंह ने कहा है कि ककनई की प्रधान गीता देवी है और वह अपने बच्चों के साथ हल्द्वानी में रहती हैं। जबकि प्रधान का पति सेना में कार्यरत है। ग्राम पंचायत के काम महिला प्रधान का जेठ विशन सिंह करता है। केदार सिंह ने ज्ञापन में आरोप लगाया है कि महिला प्रधान का जेठ फर्जी हस्ताक्षरों से गांवों में काम करवाता है, जो कि नियम विरूद्ध है। ज्ञापन में केदार सिंह ने विशन सिंह के ऊपर राजनीतिक द्वेष भावना के तहत आरोप लगाया है कि वह उसे सस्ते गल्ले की दुकान छीनने की धमकी बार-बार देता है। केदार ने बताया कि वह पिछले 22 सालों से सस्ते गल्ले का काम कर रहा है। दूसरे पक्ष द्वारा शिकायत करने पर जब टनकपुर के पूर्ति निरीक्षक ने दुकान का निरीक्षण किया तो उन्हें दुकान में कोई लापरवाही नहीं मिली। आरोप लगाया कि उसकी सस्ते गल्ले की दुकान छीनने को लेकर उसके ऊपर लगातार दबाव बनाया जाता है और धमकी दी जाती है। तहसीलदार को ज्ञापन सौंपकर सस्ता गल्ला विक्रेता ने उसे परेशान करने वाले और ग्राम पंचायत में नियम विरूद्ध फर्जी हस्ताक्षर कर कार्र्य करने वाले महिला प्रधान के जेठ के ऊपर कार्रवाई की मांग की है।
इधर, इस मामले में तहसीलदार ने बताया कि उन्हें ज्ञापन मिला है और एसडीएम के मामले को लेकर साथ विचार-विमर्श किया जाएगा। ग्रामीण की शिकायत पर मामले की जांच की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here