टनकपुर में विरोध जताते व्‍यापारी।

टनकपुर : टनकपुर में शनिवार को बाजार क्षेत्र में सैंपलिंग कराए जाने को लेकर व्यापारियों ने विरोध जताया। उन्होंने पुलिस प्रशासन पर जबरन सैंपलिंग कराए जाने का आरोप लगाते हुए दोपहर तक अपनी दुकानें बंद रखीं। व्यापारियों ने कहा कि वह प्रशासन को टेस्टिंग में सहयोग के लिए तैयार हैं, लेकिन इस तरह हिटलरशाही बर्दाश्त नहीं होगी।
व्यापार मंडल अध्यक्ष प्रकाश चंद्र मुरारी की अगुवाई में व्यापारी तुलसीराम चौराहे पर इक_ा हो गए। व्यापारियों का कहना था कि प्रशासन की ओर से एक ही दिन में सभी व्यापारियों की सैंपलिंग कराए जाने का फरमान जारी किया गया। उनका कहना था कि जिन्हें लक्षण या बीमारी है, उनकी टेस्टिंग होनी चाहिए। विरोध करने वालों में महामंत्री वैभव अग्रवाल, विजेंद्र अग्रवाल, संजय गर्ग, अनुराग अग्रवाल, कैलाश जुकरिया, बसंत पुनेठा, शाहिद, भगवत शरण, संजय अग्रवाल, अनुराग अग्रवाल, मनोज खर्कवाल, धर्मानंद पांडेय, सौरभ अग्रवाल आदि शामिल रहे।

एसडीएम पहुंचे मौके पर, व्यापारियों से की वार्ता

टनकपुर में व्‍यापारियों से वार्ता करते एसडीएम।

व्यापारियों के विरोध के बाद एसडीएम दयानंद सरस्वती मौके पर पहुंचे और उन्होंने व्यापारियों से वार्ता की। उन्होंने व्यापारियों को समझाया कि क्षेत्र में कोरोना मामले लगातार बढ़ रहे हैं, ऐसे में अब प्रत्येक व्यक्ति की टेस्टिंग जरूरी हो गई है। उन्होंने व्यापारियों से अपील करी कि वह अपने परिजनों के खातिर को कोरोना सैंपल दे दें। उन्होंने कहा कि सभी व्यापारियों के सैंपल एक साथ नहीं लिए जाएंगे, व्यापारी अपनी सहूलियत को देखते हुए कोरोना टेस्ट करवा लें।

सकारात्मक रही वार्ता, दोपहर बाद खुले प्रतिष्ठान
व्यापारियों व एसडीएम के बीच वार्ता सफल रही। व्यापारियों का कहना था कि वह प्रशासन को पूरा सहयोग करेंगे, लेकिन वह अपनी मनमर्जी न चलाएं। व्यापार मंडल अध्यक्ष प्रकाश मुरारी ने बताया कि प्रशासन का कहना था कि एक ही दिन में सारे व्यापारी अपना कोरोना टेस्ट करवाएं अथवा पूरी टनकपुर की बाजार को 14 दिन के लिए सील कर दिया जाएगा। उनका कहना था कि यह तो तर्कहीन है। एक ही दिन में पूरे टनकपुर के व्यापारियों के कोरोना टेस्ट होना असंभव है। बताया कि वार्ता में तय हुआ है कि सारिणी अनुसार व्यापारियों के कोरोना टेस्ट लिए जाएंगे। व्यापारियों व प्रशासन के बीच वार्ता सकारात्मक रहने के बाद दोपहर बाद व्यापारियों ने अपनी दुकानें खोली और भरोसा दिलाया कि वह प्रशासन को पूरा सहयोग करेंगे।

सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन
तुलसीराम चौराहे पर सभा के दौरान व्यापारियों ने सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन किया। सभा में पहुंचे तमाम व्यापारी एक-दूसरे से सटकर खड़े थे और सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल नहीं रखा गया। सरकार लगातार कोरोना की रोकथाम के लिए जागरूकता अभियान चला रही है, लेकिन लोग नियमों की लगातार अनदेखी कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here