लोहाघाट : पुलिस के हत्थे चढ़े सम्मोहित कर ठगी करने वाले अभियुक्त

0

चम्पावत में लोहाघाट शहर के मीना बाजार क्षेत्र में ठगों द्वारा दो व्यापारियों को सम्मोहित कर ठगे जाने के मामले में पुलिस ने बुधवार को मुरादाबाद निवासी तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों आरोपियों को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश करने के बाद 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने ठगी की दो अन्य घटनाओं में हाथ होने की बात कबूली है।

शहर के मीनाबाजार क्षेत्र में 28 मई को ठगों ने व्यापारी जगत सिंह धामी को अपने सम्मोहन जाल में फंसाकर उनसे 1900 रुपये और एसडीएम कोर्ट चौराहे में फल की दुकान चलाने वाले सूरज मेहता से 1500 रुपये ठग लिए थे। घटना के बाद ठग वहां से चंपत हो गए थे। पुलिस अधीक्षक धीरेंद्र गुंज्याल ने बताया कि इस मामले में बुधवार को पुलिस और एसओजी टीम ने पाटन पुल के पास से आरोपी कुंवर सिंह , समीर सिंह और गेंदा सिंह निवासी एकता कालोनी मुरादाबाद उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपी पाटन पुल के समीप ठगने के लिए नए व्यक्ति को तलाश रहे थे। आरोपियों को मीना बाजार में सीसीटीवी होने की भनक नहीं थी।

इसके चलते वह लोहाघाट शहर में ही बेखौफ घूम रहे थे। सीसीटीवी की मदद से इन आरोपियों को दबोचा जा सका। तीनों आरोपियों को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट धर्मेंद्र कुमार की अदालत में पेश किया गया। जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। आरोपियों ने तीन दिन पूर्व की वारदात के साथ ही पिछले साल लोहाघाट में धौनी मोबाइल और मां पूर्णागिरि जनरल स्टोर स्वामी में हुई ठगी में लिप्तता की बात कबूली है। एसपी ने बताया कि तीनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 418 व 420 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस टीम में प्रभारी थानाध्यक्ष हेमंत सिंह कठैत, एसआई देवेंद्र मेहता, राकेश रौंकली, बिहारी लाल, ज्योति टम्टा, एसओजी प्रभारी ललित पांडेय, मनोज बेरी, सददाम हुसैन आदि शामिल थे। एसपी ने पुलिस और एसओजी टीम को 2500 रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here